भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास:

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन ‘भारतीय इतिहास’ में लम्बे समय तक चलने वाला एक प्रमुख राष्ट्रीय आन्दोलन था। इस आन्दोलन की औपचारिक शुरुआत 1885 ई. में कांग्रेस की स्थापना के साथ हुई थी, जो कुछ उतार-चढ़ावों के साथ 15 अगस्त, 1947 ई. तक अनवरत रूप से जारी रहा। वर्ष 1857 से भारतीय राष्ट्रवाद के उदय का प्रारम्भ माना जाता है। राष्ट्रीय साहित्य और देश के आर्थिक शोषण ने भी राष्ट्रवाद को जगाने में महत्त्वपूर्ण योगदान दिया।

भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन के तीन भाग (चरण) निम्नलिखित है: प्रथम चरण (1885-1905 ई. तक)

इस काल में ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ की स्थापना हुई, किंतु इस समय तक इसका लक्ष्य पूरी तरह से अस्पष्ट था। उस समय इस आन्दोलन का प्रतिनिधित्व अल्प शिक्षित, बुद्धिजीवी मध्यम वर्गीय लोग कर रहे थे। यह वर्ग पश्चिम की उदारवादी एवं अतिवादी विचारधारा से प्रभावित था।

द्वितीय चरण (1905 से 1919 ई. तक)

इस समय तक ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ काफ़ी परिपक्व हो गई थी तथा उसके लक्ष्य एवं उद्देश्य स्पष्ट हो चुके थे। राष्ट्रीय कांग्रेस के इस मंच से भारतीय जनता के सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक एवं सांस्कृतिक विकास के लिए प्रयास शुरू किये गये। इस दौरान कुछ उग्रवादी विचारधारा वाले संगठनों ने ब्रिटिश साम्राज्यवाद को समाप्त करने के लिए पश्चिम के ही क्रांतिकारी ढंग का प्रयोग भी किया।

तृतीय एवं अन्तिम चरण (1919 से 1947 ई. तक)

इस काल में महात्मा गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने पूर्ण स्वरज्य की प्राप्ति के लिए आन्दोलन प्रारम्भ किया।

राष्ट्रीय स्वतंत्रता आन्दोलन अवधि में बनी महत्वपूर्ण संस्थाएं 

स्थापना वर्ष संस्थाओं का नाम किसके द्वारा बनायीं गई
1784एशियाटिक सोसाइटीविलियम जोन्स
युवा बंगालहेनरी लुई विवियन डिरोजियो
1828ब्रह्म समाजराजा राम मोहन राय
1843ब्रिटिश सार्वजानिक सभादादा भाई नौरोजी
1851रहनुमाई भानदयासन समाजदादा भाई नौरोजी
1862साइंटिफिक सोसाइटीसर सैयद अहमद खां
1863मोहम्मडन एंग्लो  लिटरेरी  सोसाइटीअब्दुल लतीफ़
1871वेद समाजश्रीधरालू नायडू
1867प्रार्थना समाजकेशव चन्द्र सेन,महादेव रानाडे,रविन्द्रनाथ  टैगोर
1870पूना सार्वजानिक सभारानाडे/चिपुलकर और जोशी
1872इंडियन सोसाइटीआनंद मोहन बोस
1875आर्य समाजस्वामी दयानंद सरस्वती
1875थियोसोफिकल सोसाइटीमैडम ब्लाव्त्सकी  और कर्नल अल्काट
1875मोहम्मडन एंग्लो ओरिएंटल कॉलेजसर सैयद अहमद खां
1876इंडियन एसोसिएशनसुरेन्द्र  नाथ बनर्जी
1883भारतीय  राष्ट्रीय कांफ्रेंसएस.एन. बनर्जी
1885भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेसए. ओ. ह्यूम
1885बॉम्बे प्रेसिडेंसी एसोसिएशनफिरोज शाह मेहता, तैलंग तथा  तैयब जी
1887बेलूर मठस्वामी विवेकानंद
1887इंडियन सोशल कांफ्रेंसमहादेव गोविन्द रानाडे
1888यूनाइटेड इंडियन पेट्रियाटिक एसोसिएशनसर सैयद अहमद खां
1896राम कृष्ण मिशनस्वामी विवेकानंद
1905सर्वेट्स ऑफ़ इंडिया सोसाइटीगोपाल कृष्ण गोखले
1906मुस्लिम लीगसलीमुल्लाह  एवं  आगा  खां
1913ग़दर पार्टीहरदयाल, काशीराम व सोहन  सिंह
1916होमरूल  लीगबालगंगाधर  तिलक
1918विश्व  भारतीरविन्द्र नाथ टैगोर
1920कम्युनिस्ट  पार्टी ऑफ़ इंडियाएम् एन राय (ताशकंद में)
1920सर्वेट्स ऑफ़ पीपुल सोसाइटीलालालाजपत  राय
1920अखिल भारतीय ट्रेड यूनियन कांग्रेसएन. एम्. जोशी
1923स्वराज पार्टीमोतीलाल नेहरु, चितरंजन दास  व एन.सी. केलकर
1925राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघके बी हेडगेवार
1928हिंदुस्तान सोशलिस्ट  रिपब्लिकन एसोसिएशनचन्द्र शेखर आज़ाद, भगत सिंह
1936अखिल भारतीय किसान  सभाएन. जी. रंग व सहजानन्द
1936अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्मीनू  मसानी , अशोक  मेहता व डा. अशरफ
1937खुदाई खिदमतगारखान अब्दुल गफ्फार खान
1939फॉरवर्ड  ब्लाकसुभाष चन्द्र बोस
1940रेडिकल डेमोक्रेटिक दलएम. एन. राय
1942आज़ाद हिंद फौजरस बिहारी बोस

Viewed 20 Times

Post On 2018-02-17

National Independence Movement भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास

मानव शरीर के अंगो के नाम, संख्या और महत्वपूर्ण तथ्य | Human Body Facts in Hindi Grownwithus

भारत में ब्रिटिश राज का इतिहास | History of British rule in India in Hindi

विज्ञान के प्रमुख क्षेत्र एवं उनके जनको (खोजकर्ता) की सूची | Science areas and their parents in Hindi

Show more