grownwithus

list of important lake of india


झील
विवरण
पुलिकटयह आंध्र प्रदेश में स्थित है। यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी खारे पानी की झील है। यह झील श्रीहरिकोटा द्वीप को बंगाल की खाड़ी से अलग करती है। श्रीहरिकोटा में सतिश धवन अंतरिक्ष केन्द्र स्थित है।

झील
विवरण
पुलिकटयह आंध्र प्रदेश में स्थित है। यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी खारे पानी की झील है। यह झील श्रीहरिकोटा द्वीप को बंगाल की खाड़ी से अलग करती है। श्रीहरिकोटा में सतिश धवन अंतरिक्ष केन्द्र स्थित है।
कंवरयह बिहार में स्थित है। यह एशिया की सबसे बड़ी गोखूर झील है।
चिल्कायह ओडिसा में स्थित है। विश्व की दूसरी तथा भारत की सबसे बड़ी तटीय लैगून है। यह सर्दियों में पलायन करने वाले पक्षियों के लिए जगह है।
सांभरयह राजस्थान में है। यह भारत की सबसे बड़ी अंतर्देशीय खारे पानी की झील है।
धेबरयह राजस्थान में स्थित है। यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी मानव निर्मित झील है।
वेम्बनाड कायालयह केरल में स्थित है । यह भारत की सबसे लम्बी झील है।
लोनारयह महाराष्ट्र में स्थित है। यह उल्का के प्रभाव से बनी है।
कोलेरूयह आंध्र प्रदेश में स्थित है । यह कृष्णा और गोदावरी के डेल्टा के बीच में है यह भारत की प्रमुख ताजे पानी की झीलों में से एक है।
वुलरयह जम्मू और कश्मीर में स्थित है। यह भारत की सबसे बड़ी ताजे पानी की झीलों में से एक है। यह विवर्तनिक गतिविधि द्वारा निर्मित है। इसकी जलापूर्ति झेलम नदी द्वारा की जाती है।
डल झीलयह श्रीनगर में स्थित है तथा इसके किनारे पर एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन स्थित है। इसे श्रीनगर के ज्वेल(आभूषण) के नाम से जाना जाता है।
नाल सरोवरयह गुजरात में स्थित है। यहाँ भारत का सबसे बड़ा पक्षी अभ्यारण्य स्थित है।
रूप कुंडयह उत्तराखण्ड में स्थित है। इसका हिन्दू श्रद्धालुओं के बीच विशेष स्थान है। यह कंकाल झील के नाम से भी जानी जाती है।
लोकतकयह भारत के पूर्वोत्तर भाग में स्थित मणिपुर राज्य की एक झील है। यह पूर्वोत्तर भारत की सबसे बड़ी मीठे पानी की झील है, केयबुल लाम्जाओँ जो विश्व का एकमात्र तैराक राष्ट्रीय उद्यान है, इस झील में स्थित है।

कंवर यह बिहार में स्थित है। यह एशिया की सबसे बड़ी गोखूर झील है। चिल्का यह ओडिसा में स्थित है। विश्व की दूसरी तथा भारत की सबसे बड़ी तटीय लैगून है। यह सर्दियों में पलायन करने वाले पक्षियों के लिए जगह है। सांभर यह राजस्थान में है। यह भारत की सबसे बड़ी अंतर्देशीय खारे पानी की झील है।

धेबर यह राजस्थान में स्थित है। यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी मानव निर्मित झील है। वेम्बनाड कायाल यह केरल में स्थित है । यह भारत की सबसे लम्बी झील है। लोनार यह महाराष्ट्र में स्थित है। यह उल्का के प्रभाव से बनी है। कोलेरू यह आंध्र प्रदेश में स्थित है । यह कृष्णा और गोदावरी के डेल्टा के बीच में है यह भारत की प्रमुख ताजे पानी की झीलों में से एक है। वुलर यह जम्मू और कश्मीर में स्थित है। यह भारत की सबसे बड़ी ताजे पानी की झीलों में से एक है। यह विवर्तनिक गतिविधि द्वारा निर्मित है। इसकी जलापूर्ति झेलम नदी द्वारा की जाती है। डल झील यह श्रीनगर में स्थित है तथा इसके किनारे पर एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन स्थित है। इसे श्रीनगर के ज्वेल(आभूषण) के नाम से जाना जाता है। नाल सरोवर यह गुजरात में स्थित है। यहाँ भारत का सबसे बड़ा पक्षी अभ्यारण्य स्थित है।

रूप कुंड यह उत्तराखण्ड में स्थित है। इसका हिन्दू श्रद्धालुओं के बीच विशेष स्थान है। यह कंकाल झील के नाम से भी जानी जाती है।

लोकतक यह भारत के पूर्वोत्तर भाग में स्थित मणिपुर राज्य की एक झील है। यह पूर्वोत्तर भारत की सबसे बड़ी मीठे पानी की झील है, केयबुल लाम्जाओँ जो विश्व का एकमात्र तैराक राष्ट्रीय उद्यान है, इस झील में स्थित है।


Viewed 93 Times

Post On 2018-05-24